हनुमान मंदिरों में तमाम धार्मिक अनुष्ठान सम्पन्न

0
28

कोंच – बुढवा मंगल पर आज नगर व क्षेत्र के विभिन्न हनुमान मंदिरों में तमाम धार्मिक अनुष्ठान सम्पन्न

हुये, दर्शनार्थी श्रद्घालुओं की भारी भीड़ आज मंदिरों में रामभक्त आंजनेय हनुमान का दर्शन पाकर कृतार्थ हुई। सुप्रसिद्घ दोहर के महावीर, उरई रोड स्थित पंचमुखी हनुमान जी महाराज, गुदरिया हनुमान मंदिर, किष्किंधा हनुमान मंदिर तथा पसरट के हनुमान मंदिर पर बिशेष अनुष्ठान और भंडारों का आयोजन किया गया, श्रीराम चरित मानस के अखंड पाठ आयोजित किये गये। जगह जगह भंडारों में श्रद्घालुओं ने प्रसाद छका।

 

मान्यता है कि बुढवा मंगल पर रामभक्त हनुमान अपना पुराना चोला उतार कर नया चोला धारण करते हैं, सो इस पर्व को बिशेष रूप से मनाने का प्रचलन है। आज सबेरे से ही हनुमान मंदिरों में आंजनेय के नयनाभिराम श्रृंगार किये गये, मंदिरों को काफी आकर्षक ढंग से सजाया गया था। भक्तों का सबेरे से ही दर्शनार्थ तांता लगना प्रारम्भ हो गया था जो देर शाम तक जारी रहा। दोहर के महावीर मंदिर पर बिशेष पूजा अनुष्ठान किये गये और भंडारे का वितरण किया गया। मंदिर के मुख्य पुजारी पं. कमलेश दुवे ने महावीर हनुमान की आरती उतारी। भक्तों की यहां भारी भीड़ देर रात तक चलती रही।

 

मंदिर के पाश्र्व में कई भंडारों में हजारों श्रद्घालुओं ने प्रसाद ग्रहण किया। आनंद दुवे, बंटे रावत आदि व्यवस्थाओं में लगे थे। उधर, धनुताल स्थित लंका विजय हनुमान मंदिर में भी भक्तों का तांता लगा रहा, यहां भी भंडारे की बढिया व्यवस्था की गई थी। उरई रोड पर पंचमुखी हनुमान मंदिर पर अखंड रामायण पाठ का आयोजन किया गया एवं रात्रि में आर्केस्ट्रा पर श्रोताओं ने भजनों का आनंद लिया। रामेश्वर दुवे, कुलदीप दुवे आदि व्यवस्थाओं में लगे थे। गुदरिया के हनुमान मंदिर में भी भक्तों का रेला देर रात तक चलता रहा।

पुजारी रमेशदास ने हनुमानजी की बिशेष पूजा की, कार्यकर्ताओं ने यहां भंडारे का भी आयोजन किया था जिसमें हजारों लोगों ने प्रसाद छका। इधर, पसरट के हनुमान मंदिर पर भी विशाल भंडारे का आयोजन किया गया जिसमें सैकड़ों लोगों ने प्रसाद ग्रहण किया। राजेश शुक्ला, गुड्डू शुक्ला, रिंकू धनौराबाले, वैभव शुक्ला, अशोक बादशाह, प्रेमकिशोर, पुरुषोत्तम राठौर, आशीष शुक्ला, रामविहारी सोनी, रामदास नायक, प्रियम शुक्ला, दीपू अग्रवाल, मनोज गिरवासिया, शैलेन्द्र अग्रवाल, राहुलबाबू अग्रवाल आदि का सहयोग सराहनीय रहा। शांति और सुरक्षा के मद्देनजर सीओ रुक्मिणी वर्मा खुद थानेदारों और पुलिस बल के साथ मंदिरों पर रही

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here