UP : कानपूर और बलिया में हिंसा, 4 लोगों की मौत

0
95

कानपूर। कानपूर और बलिया में बीना रूट के ताजिया निकलने पर हिंसा भड़क गया। हिंसा दो समुदायों में हुआ। इस दौरान 4 लोगों की मौत हो गई है। धारा 144 लगा दिया गया है।

सूत्रों को माने तो, हालात कल से ही बिगड़ने की कोशिश की का रही थी। लेकिन स्थानीय पुलिस के बीच बचाव के कारण मामला सुलझ गया। परन्तु आज ताजिया तय रास्ते न निकलने के कारण साम्प्रदायिक हिंसा भड़क गया जिसमें 4 लोगों की मृत्यु हो गई है। अफसोसनाक बात ये है कि इस तरह की घटना की आशंका इंटेलिजेंस पुलिस ने कानपुर की डीआईजी सोनिया सिंह को पहले ही दी थी और उन्हें अलर्ट किया था।

जानकारी प्राप्त हुई है कि यूपी के बलिया में भी दंगे भड़क गए। प्रशासन के मुस्तैदी के कारण इस पर काबू पाने में क़ामयाब हासिल हो सकी। हालात अभी भी तनावपूर्ण है। क्षेत्र में भारी संख्या में बल तैनात कर दिया गया है। पूरा इलाका छावनी में तब्दील हो चुका है। हिंसा की ख़बर मिलते ही डीएम और एसपी मौके पर पहुंच गए हैं।

एक ही समय पर दो शहरों में हिंसा होने से राजनीतिक गलियारों में कई प्रश्न उठ खड़े हुए हैं। अटकलें लगाई जा रही है कि यह हिंसा राजनीति आए प्रेरित है। सूत्रों को माने तो हिंसा राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं और असमाजिक तत्वों के कारण भड़का है। यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि किस दल के कार्यकर्ताओं द्वारा किया गया है। परंतु कयास लगाए जा रहे हैं। विपक्ष की भूमिका सन्देह में है। मामले की गम्भीरता को देखते हुए, पूरे इलाके में कर्फ्यू लगा दिया गया है।

हिंसा भड़के की वजह

कल विजय दशमी के दिन से ही हिंसा भड़काने की कोशिशें जारी थी। लेकिन स्थानीय पुलिस के बीच बचाव के चलते टल गया। लेकिन आज अराजक तत्वों को मौका मिल गया।दरसल जिस रास्ते से ताजिया निकलना चाहिए था। वहा से न निकल कर दूसरे इलाके से निकाला गया। इस अवसर का लाभ दंगा भड़काने वालो को मिला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here