फर्जी तरीके से दस्ताबेज तैयार कर पासपोर्ट बनाने वाले गिरोह पर मु.अ. संख्या-314/17,धारा-419,420भा. द. वि. थाना कुरेभार ,सुल्तानपुर की विवेचना किसी दूसरे सक्षम अधिकारी(क्राइम ब्रांच) से कराये जाने की कि है मांग

0
42

Report by Ravindra Pandey


तौफिक खां पुत्र मो. सगीर खां निवासी कौड़ियावा थाना कुरेभार जनपद सुल्तानपुर ने फर्जी दस्तावेज तैयार कर पासपोर्ट बनाने वाले गिरोह सक्रिय है के सम्बन्ध में सूचना दिया था उसकी जांच हुई तो उसमे 04 अभियुक्तों में से एक अभियुक्त महफूज खां पुत्र मकबूल खां निवासी कौड़ियावा थाना कूरेभार पर पासपोर्ट सम्बन्धित सभी दस्तावेज फर्जी,मार्कशीट झूठी व शपथ-पत्र फर्जी साबित हुआ और महफूज खां पर आपराधिक मुकदमा भी दर्ज है जिस पर उन पर मुकदमा मु.अ. स.314/17,धारा-419,420 का कुरेभार थाने दर्ज  है।वही 03 अभियुक्तों पर जांच चल रही है ,जांच कर रहे सक्षम अधिकारी के खिलाफ मो.तौफिक खां पुत्र मो.सगीर खां ने पुलिस अधीक्षक सुल्तानपुर से 09 .01.2018  को लिखित शिकायत किया है कि विवेचना पर नियुक्त राम कुमार तिवारी जो की कुरेभार थाने पर एस. आई. के पद पर तैनात है पर मो.तौफिक खां ने कहना है कि इस रैकेट में संलिप्त अभियुक्तों से सांठगांठ कर विवेचना सही तारीके से न करके अन्य दिशा में भटकाने का प्रयास कर रहे है जिससे फर्जी रैकेट चलाने ब्यक्तिओ का जग उजागर न हो सके और रैकेट में शामिल अभियुक्तों को बचाया जा सके।जब इस प्रकरण के बारे में


विवेचना में सहयोग के लिए एस. आई.राम कुमार तिवारी को कुछ लोगो का नाम बताना चाहा तो उन्होंने ने हमारी दी गयी सूचना को नजर अंदाज करते हुए इस बिंदु पर विवेचना न करने की बात कही और एस. आई. राम कुमार तिवारी ने हमे पेशेवर नेता की संज्ञा देते हुए रिपोर्ट प्रेषित की है जिनका संदर्भ सं.40017918000305 है।जबकि
मो.तौफिक खां ने विगत में पत्र द्वारा अवगत कराया था लेकिन विवेचना में कोई निष्पक्ष कार्यवाही न होते देख दूबारा अवगत कराया है कि इस प्रकरण की जांच न्याय संगत हो जिससे फर्जी दस्ताबेज बनाकर पासपोर्ट बनवाने वाले लोगो को उचित दण्ड मिले।मो.तौफिक खां ने पुलिस अधीक्षक से शिकायत किया है कि
यह तभी सम्भव होगा जब इस मामले का सही तरीके से एवं निष्पक्ष जांच किया जाय  और विवेचना पर नियुक्त एस. आई.राम कुमार तिवारी को हटाया जाय और किसी अन्य सक्षम अधिकारी के द्वारा विवेचना करायी जाय, ऐसा करने पर फर्जी पासपोर्ट गिरोह के सरगना सहित अन्य रैकेट में शामिल अभियुक्तों की गिरफ्तारी तभी सम्भव हो सकेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here