मुम्बई में अब पत्रकार भी नहीं हैं सुरक्षित, टाइम्स नाउ के पत्रकार पर जानलेवा हुआ हमला

0
107

लोकतंत्र का चौथा स्तंभ कही जानेवाली पत्रकारिता पर हमला  हुआ हैं। करोड़ो मुम्बईकरों की सुरक्षा का दावा करनेवाली मुंबई पुलिस पत्रकारों को सुरक्षा करने में नाकाम रही हैं। मामला हैं मुंबई के गाँवदेवी का जहाँ बीती रात टाइम्स नाउ के पत्रकार हरमन गोम्ज और उनके मित्र पर अज्ञात हमलावरों द्वारा जानलेवा हमला हुआ हैं।

जानिए क्या कहना हैं हरमन का ?

हरमन की माने तो रात को घर आते समय 4 लोगों ने उनपर जानलेवा हमला किया। इस हमले में पत्रकार हरमन गोम्ज की आंखों पर गंभीर चोट आई। इस हमले में 6 टाके लगे हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए गाँवदेवी पुलिस ने मामला दर्जकर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी। सूत्रों की माने तो पुलिस पहले तो आनाकानी कर रहीं थी। लेकिन मामला चूंकि मीडिया से जुड़ा था तो पुलिस ने चुस्ती दिखाते हुए मामला दर्ज कर लिया हैं।

यह कोइ पहला मामला नहीं हैं जब पत्रकारों पर हमले नहीं है हुए हैं। इससे पहले इसी साल इंडिया टीवी के वरिष्ठ पत्रकार सुधीर शुक्ला पर लोकल ट्रेन के मनचलों द्वारा जानलेवा हमला हुआ था। जिसके बाद मामला संज्ञान में आते ही पुलिस ने फुर्ती दिखाते हुए दोषियों को धर दबोचा और उनपर वैधानिक कार्रवाई की गई।

लोकतंत्र के चौथे स्तंभ कहे जानेवाले मीड़िया पे इस तरह के हमले सरकारी की नाकामी बताने के लिए काफी हैं। राज्य सरकार को चाहिए कि इस तरह के किसी भी मामले में पुलिस को सख्त हिदायत दे कि बिना देर किए मामला दर्ज करें और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here