विद्यार्थियों के हित में NSC का मोर्चा

0
65

मुंबई। राष्ट्रवादी विद्यार्थी कांग्रेस ने मुंबई के घाटकोपर मेट्रो स्टेशन व कालिना विद्यापीठ में ज़ोरदार प्रदर्शन कर विद्यार्थयों के हित में आवाज़ बुलंद की।

बता दें कि, घाटकोपर मेट्रो स्टेशन पर धरना प्रदर्शन करने का उद्देश्य मोनो व मेट्रो रेल में सफ़र करने वाले विद्यार्थियों के किरायेे मेंं 50 प्रतिशत तक की छूट करवाना था। मोर्चे के नेतृत्व NSC के अध्यक्ष अमित तिवारी, सुहैल सूबेदार अल्पसंख्यक विभगाध्क्ष मुंबई ने की।

नेशनल टाइम्स न्यूज़ से बात करते हुए, अमित तिवारी ने मेट्रो अधिकारियों को नकारा व अयोग्य ठहराया। उनका कहना है कि, उन्होंने अपना होमवर्क नहीं किया। उनको लगता है कि, यह आंदोलन यही ख़त्म हो जाएगा तो ये उनकी गलतफहमी है। उन्होंने आगे कहा कि, यह आंदोलन तब तक चलेगा जब तक कि हमारी मांग पूरी नहीं हो जाती।

एनसीपी नेता सुहैल सूबेदार का कहना है कि, मंहगाई लगातार बढ़ रहा है सरकार इस लार लगाम लगाने में नाकाम है ऐसे में विद्यार्थयों को कुछ राहत मिलना चाहिए। यह राहत सिर्फ विद्यार्थयों को ही नहीं उनके अभिभावकों को भी मिलेगा।

दूसरा मोर्चा कालिना विद्यापीठ के मुख्यद्वार पर किया गया और कालिना विद्यापीठ के मुख्यद्वार पर ताला लगा दिया गया। यह मोर्चा विश्वविद्यालय द्वारा परीक्षा परिणाम को घोषित न करने को लेकर था। राष्ट्रवादी विद्यार्थी कांग्रेस ने प्रदर्शन करते हुए मांग की, की रुके हुए सभी परिणामों को जल्द से जल्द घोषित किया जाए और शिक्षा मंत्री इस्तीफ़ा दे। एनएससी के अध्यक्ष अमित तिवारी ने विश्वविद्यालय पर गम्भीर आरोप लगया। उन्होंने कहा कि, विद्यार्थी मुंबई विश्वविद्यालय में अपना भविष्य बनाने आते लेकिन यह कहते हुए मुझे दुख हो रहा है कि उसी विश्वविद्यालय ने उ के आगे की शिक्षा और भविष्य पर अंकुश लगाने का काम कर रही है।

इस दौरान अमित तिवारी कार्याध्यक्ष,राष्ट्रवादी विद्यार्थी काँग्रेस मुंबई सुहैल सूबेदार (मुंबई अध्यक्ष अ. वि.), दिपक पवार(मुंबई अध्यक्ष सेवादल), पुजा गुप्ता,(युवती जिल्हा अध्यक्ष), अँड. मनोज टपाल, मंगेश शेवाळे, हार्दिक जाधव, आरीज सकारीया, भिमन्ना मेटी, शुभम तावडे, अर्चित मिश्रा, शीरीष सिंह व भारी तादात में समर्थक उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here