रक्तचाप यानी के ब्लड प्रेशर पर नियंत्रण

रक्तचाप के दवाखानों की संख्या दिन ब दिन बढ़ती जा रही है.इस भागदौड़ भरी जिंदगी में अनियमित दिनचर्या समय पर खाना न खाना जिनके कारण हम बाहर के खाना जैसे कि फास्टफूड खाने से इनसे होनेवाली बीमारियों का असर अब भारत मे भी दिखने लगा है.रक्तचाप से दिल संबधी बीमारियां, स्ट्रोक आदि की संमस्याये उत्पन्न होती है रक्तचाप के मरीज को रोज दवाइया लेनी पड़ती है.

आज हम आपको कुछ घरेलू उपाय बता रहे है जिससे रक्तचाप की समस्या कम हो जाएगी. जिस किसी व्यक्ति को भी रक्तचाप की समस्या हो वो इस घरेलू उपाय को अपनाए.इस उपाय से आपका रक्तचाप नियंत्रित रहेगा.

लहसुन:-

रक्तचाप के रोगी को लहसुन यह अमृत की तरह है.लहसुन में एलिसिन नामक तत्व पाया जाता है, जो नाइट्रिक ऑक्साइड के प्रमाण को बढ़ाता है जिस्सेहमरे मासपेशियो को आराम मिलता है.रक्तचाप के डायलास्टिक और सिस्टोलिक कार्यप्रणाली को आराम मिलता है.इसीलिए रक्तचाप के रोगी को रोज एक लहसुन की कली खानी चाहिए.

सहजन:-

सहजन में अधिक मात्रा में प्रोटीन एवं विटामिन पाया जाता है.एक खोज के अनुसार, सहजन के पत्तो के अर्क को पीने से रक्तचाप के डायलास्टिक और सिस्टोलिक की कार्यप्रणाली पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है.रक्तचाप के रोगी ने मसूर की दाल के साथ सहजन का सेवन करना चाहिए.

अलसी:-

अलसी में अल्फा लिनोनेलिक एसिड भरपूर मात्रा में पाया जाता है.यह एज प्रकार का महत्वपूर्ण ओमेगा-3 फटी एसिड है. एक खोज के अनुसार बताया गया है कि जिन लोगो को हाइपर टेंशन की समस्या है उन्होंने अपने खाने में अलसी का उपयोग करना चाहिए. इससे कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होती है एवं रक्तचाप नियंत्रण में रहता है.

इलायची:-

एक खोज के अनुसार इलायची के नियमित सेवन से रक्तचाप नियंत्रित रहता है
इन घरेलु नुस्खों से यदि हमें लाभ मिलता है तो जरूर हमे इसका उपयोग करना चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here