पुरानी पेंशन बहाली के लिए उत्तर प्रदेश के कर्मचारियों ने जगह- जगह निकाली रैलियां

0
16

Report by Ravindra Pandey


पुरानी पेंशन को लेकर कर्मचारियों के लिए बुरी सुचना है अन्य राज्य में पुरानी पेंशन का लाभ उठा रहे जब की उत्तर प्रदेश में राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली लागू होने के बाद पुरानी पेंशन योजना का लाभ नहीं ले पाएंगे कर्मचारी। सरकार ने इस संबंध में स्थिति स्पष्ट कर दी है। सरकार के इस फैसले से कर्मचारियों को जोरदार झटका लगा है।
केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली 1 जनवरी 2004 से लागू की है। यह व्यवस्था 1 अप्रैल 2005 में लागू की गई। जबकि अन्य राज्य की सरकारों ने इस व्यवस्था को अलग-अलग तिथियों में लागू किया है।परन्तु प्रदेश सरकार की सेवा में 1 अप्रैल 2005 या उसके बाद नियुक्त ऐसे कर्मचारी जो प्रदेश सरकार की सेवा में आने के पहले दूसरे प्रदेशों में पुरानी पेंशन योजना में कार्यरत थे, पुरानी पेंशन योजना का लाभ मांग रहे हैं।
इसी प्रकरण को लेकर जनपद सुल्तानपुर में आज हजारों की तादात में कर्मचारी व् अधिकारी अपने गुस्से को केंद्र सरकार तक पहुँचने के लिए और अपनी मांगों को मनवाने के लिए पी.डब्ल्यू गेस्ट हाउस से पयागीपुर(अमहट )होते हुए तिकोनिया पार्क तक रैलियों के माध्यम से अपने आक्रोश को ब्यक्त किया और पुरानी पेंशन योजना बहाल हो और ऍन पी. यस् लागू हो इस मौके पर वीरेंद्र नरायन, अनिल यादव, जंग बहादुर वर्मा, करुण सिंह, प्रशांत पाण्डेय, राम बहादुर, हरिओम, रणविजय सिंह आदि हजारो की संख्या में लोगो ने भाग लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here