धूमधाम से निकली भगवान बाल्मीकि की शोभायात्रा

0
37

रिपोर्टर-हरिओम बुधौलिया

कोंच – बाल्मीकि जयंती आज नगर में धूमधाम के साथ मनाई गई, भगवान बाल्मीकि की विशाल शोभायात्रा निकालने के साथ जयंती को लेकर अलग अलग कई कार्यक्रम आयोजित किये गये। यहां रामतलैया में स्थित बाल्मीकि मंदिर पर आयोजित कार्यक्रम में वक्ताओं ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुये कहा कि भगवान बाल्मीकि ने समतामूलक समाज की स्थापना की और समाज से जातिभेद मिटाने का काम किया।

भगतसिंह नगर स्थित बाल्मीकि मंदिर से भगवान बाल्मीकि की विशाल शोभायात्रा निकाली गई जो नगर के मुख्य मार्गों का भ्रमण करती हुई गांधीनगर स्थित बाल्मीकि मंदिर पहुंची जहां पूजा अर्चना के बाद पुन: भगतसिंह नगर स्थित बाल्मीकि मंदिर पहुंची जहां आवश्यक पूजा अर्चना के बाद प्रसाद वितरित किया गया। शोभायात्रा में भगवान बाल्मीकि का विशाल चित्र रथ पर आरूढ था और समाजसेवी राजेश्वरी यादव उक्त रथ पर सवार हो शोभायात्रा का नेतृत्व कर रहीं थीं। बाल्मीकि समाज के लोगों ने राजेश्वरी यादव का माल्यार्पण कर स्वागत किया। इधर, बाल्मीकि मंदिर में आयोजित कार्यक्रम में वक्ताओं ने कहा कि बाल्मीकि समाज बहुत ही मेहनतकश समाज है जो चौबीसों घंटे काम करता है तब समाज के अन्य लोग अच्छी प्रकार से रह पाते हैं।

उन्होंने शिक्षा को जीवन की सबसे अमूल्य निधि बताते हुये कहा कि बाल्मीकि समाज के लोगों को चाहिये कि अपनी आमदनी का कम से कम पचास फीसदी धन वे अपने बच्चों की पढाई पर खर्च करें ताकि उनके बच्चे भी आगे जाकर अच्छी नौकरियां हासिल कर देश और समाज की सेवा में अपना योगदान दे सकें। उन्होंने व्यसनों को तिलांजलि देने की बात कहते हुये समाज को व्यसनमुक्त करने का संकल्प लेने की जरूरत बताई। इस दौरान विनोद बल्लू, कमलेश बाल्मीकि, सोनू, खन्ना, प्रकाश बाल्मीकि, दीपू पेंटर, सुनील, शिवकुमार, अमित, शिवराम, अशोक, रानू, घनश्याम, अरूण, जीवनलाल बाल्मीकि, नरेन्द्र बाल्मीकि, दिलीप, नीलू, बब्बूलाल, राजू अंडा, मंगल तीतरा, नरेन्द्र सतोह, नारायण, वीरू, अवधविहारी बाल्मीकि आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here